अपने बच्चे के नामकरण के लिए अंकशास्त्रीय युक्तियाँ

Numerological Tips Naming Your Baby




अंक ज्योतिष अक्षरों के साथ संख्याओं को जोड़ने और हमारे जीवन में उनके महत्व की भाषा है। यह किसी व्यक्ति के समग्र व्यक्तित्व और विशेषताओं को समझने में सहायक है, और इसका उपयोग व्यक्ति के आसपास की ऊर्जा को समझने के लिए भी किया जा सकता है।

अंक ज्योतिष के माध्यम से, आप अपने व्यक्तित्व के बारे में गहरी अंतर्दृष्टि प्राप्त कर सकते हैं, और अपने स्वयं के जीवन पथ और करियर विकल्पों के बारे में अधिक जानकार बन सकते हैं। सबसे महत्वपूर्ण प्रश्न जिनका उत्तर व्यक्ति चाहते हैं, अंक ज्योतिष रीडिंग के माध्यम से पाए जा सकते हैं। यह एक व्यक्ति के स्वास्थ्य, वित्तीय पहलुओं और विवाह अनुकूलता को भी निर्धारित करता है।





भारतीय अंकशास्त्र विभिन्न अक्षरों को निम्नलिखित तरीके से संख्या प्रदान करता है- 1 अक्षर A, I, J, Q, Y के लिए है, जबकि 2 अक्षर B, K, R के लिए है। इसी तरह, 3 सी, जी, एल, एस के लिए है, 4 डी, एम, टी के लिए है, 5 ई, एच, एन, एक्स के लिए है, 6 यू, वी, डब्ल्यू के लिए है, 7 ओ, जेड के लिए है और अंत में 8 F और P के लिए है।

Astroyogi.com के माध्यम से विशेषज्ञ अंकशास्त्रियों से ऑनलाइन परामर्श लें।



चूँकि अंक ज्योतिष एक जातक के जीवन में अवसरों के कई द्वार खोल सकता है, लोग सचेत रूप से जीवन के शुरुआती दिनों में इसके सिद्धांतों को लागू कर रहे हैं। और इसलिए, आजकल, नाम को बहुत महत्व दिया जा रहा है, माता-पिता और परिवार के सदस्य नवजात शिशु के लिए निर्णय लेते हैं। नाम अंकशास्त्र में, व्यक्ति का पहला नाम उसके व्यक्तित्व, इच्छा और सोच को निर्धारित करता है जबकि उपनाम व्यक्तिगत विशेषताओं और परिवार के आनुवंशिक प्रभाव को इंगित करता है।

आपके बच्चे की अंक ज्योतिष नाम संख्या यह निर्धारित कर सकती है कि उसका जीवन शांतिपूर्ण, सफल और सकारात्मक होगा या नहीं। यह इंगित करता है कि आपका बच्चा किस प्रकार के लोगों और लोगों की गुणवत्ता को अपने जीवन में आकर्षित करेगा। यह आपके बच्चे के अनुभव की प्रकृति, वह किस तरह का जीवन जीएगा और उसके जीवन में आने वाले अवसरों और खतरों को भी इंगित करता है।

जन्म तिथि और नाम से अंक ज्योतिष संख्या भिन्न हो सकती है। नाम संख्या की तुलना में जन्म संख्या को अधिक महत्व दिया जाता है और अंकशास्त्र में यह सलाह दी जाती है कि आप ऐसा नाम चुनें जो आपके बच्चे की जन्म संख्या के अनुरूप हो।

अपने शिशु के लिए केवल एक शक्तिशाली और अर्थपूर्ण नाम का निर्णय लेने से उसके जीवन में काफी मदद मिल सकती है। वैदिक नाम अंक ज्योतिष से जुड़े विभिन्न व्यक्तित्व लक्षण हैं। इनमें से कुछ में शामिल हैं- वैदिक नंबर 3 जो द इनोवेटर से जुड़ा है, या वैदिक नंबर 7 जो द एजुकेटर से जुड़ा है।

नाम की वैदिक संख्या की गणना करने के अलावा, एक नाम में प्रत्येक अक्षर के लिए कुछ निश्चित अर्थ दिए गए हैं। उदाहरण के लिए, अक्षर 'S' का अर्थ है कि व्यक्ति गर्म और भावुक होगा, अक्षर 'R' का अर्थ है कि व्यक्ति ऊर्जावान होगा और उसके पास एक अच्छी कार्य नीति होगी, और अक्षर 'T' का अर्थ है कि व्यक्ति मुखर होगा और उत्तेजक।

एक नाम में पहले और आखिरी अक्षर के साथ कुछ निश्चित अर्थ भी होते हैं। पहला अक्षर यह दर्शाता है कि व्यक्ति किस तरह से कठिनाइयों का सामना करता है और उसका प्रबंधन कैसे करता है जबकि अंतिम वर्णमाला किसी कार्य को पूरा करने के लिए व्यक्ति की दृढ़ता को इंगित करती है।

इस प्रकार, अपने बच्चे के लिए उपयुक्त नाम चुनना बहुत महत्वपूर्ण हो सकता है। आपको यह तय करने में मदद के लिए एक विशेषज्ञ ज्योतिषी से परामर्श लेना चाहिए कि कौन से अक्षर आपके बच्चे की जन्म संख्या और जन्म कुंडली के अनुरूप काम करेंगे।

लोकप्रिय पोस्ट